Showing posts with label RUPVAS. Show all posts
Showing posts with label RUPVAS. Show all posts

Friday, June 7, 2013

ROOPVAS


एक सफ़र रूपवास की ओर



      आगरा से एक रास्ता जगनेर और तांतपुर की तरफ जाता है, रास्ते में रघुकुल कॉलेज भी पड़ता है जहाँ आज निधि का इतिहास का पेपर था , मैंने निधि को कॉलेज तक छोड़ दिया और इसके चल दिया जगनेर की ओर

 आगरा से जगनेर करीब पचास किमी दूर है, और उत्तर प्रदेश का आखिरी हिस्सा भी है जगनेर के तीनों ओर राजस्थान की सीमा है, जगनेर से कुछ किमी पहले सरेंधी नामक एक चौराहा भी है जहाँ राजस्थान के भरतपुर से एक सड़क धोलपुर की ओर जाती है और उत्तरप्रदेश की एक सड़क तांतपुर से आगरा की ओर आती है अतः दोनों राज्यों की सडकों का मेल सरेंधी पर ही होता है मैं सरेंधी पहुंचा, यहाँ नाश्ते की कुछ दुकाने खुली हुई थी , मैंने दो कचोड़ी खाई और रूपवास की ओर चल दिया

रूपवास, भरतपुर वाली सड़क पर राजस्थान में स्थित है, अभी मेरी बाइक उत्तर प्रदेश में दौड़ रही थी सामने मुझे अरावली की पहाड़ी श्रंखला नजर आई, यहाँ पत्थर के खनन का काम तेजी पर चल रहा था, पहाड़ी पार करते ही राजस्थान की सीमा शुरू हो गई और उत्तर प्रदेश की समाप्त सड़क की हालत भी बदल गई , जब तक उत्तर प्रदेश में था सड़क एक दम चमाचम थी, राजस्थान आते ही उबड़ खाबड़ हो गई, जगह जगह गड्ढे

 थोड़ी देर में मैं रूपवास में था, देखा कि बाजार तो अभी खुला नहीं है।  मुझे यहाँ से सरसों का कडवा तेल लेना था करीब बीस लीटर आगरा में सरसों के तेल का भाव पिच्चासी रुपये था जबकि यहाँ मुझे सत्तर रुपये के हिसाब से मिला तेल मिल अभी बंद थी इसलिए रूपवास के स्टेशन की तरफ निकल लिया , स्टेशन पर प्लेटफोर्म बनाने का काम चल रहा था , अभी कोई ट्रेन भी नहीं आई थी , मैं कुछ समय तक वहां रूका और वापस आ गया

रास्ते में मुझे एक झील के किनारे महल देखने को मिला यह रूपवास का लाल महल था इसके इतिहास के बारे में मुझे कोई ख़ास जानकारी नहीं है , महल के सभी दरवाजे बंद थे, यहाँ सैलानियों की संख्या ना के बराबर थी, अभी फ़िलहाल मैं ही अकेला सैलानी था यहाँ लाल महल देखने वाला

रास्ते में आई एक कोकाकोला  की दुकान

मैं और मेरी बाइक

जगनेर रोड 

जगनेर रोड 


खेरागढ़ रोड 












लाल महल