Showing posts with label मालवा से अवंतिका की ओर. Show all posts
Showing posts with label मालवा से अवंतिका की ओर. Show all posts

Friday, January 31, 2014

MALWA TO AVNTIKA

                                                                           इस यात्रा को शुरू से पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें । 

  
मालवा से अवंतिका की ओर  

          अब वक़्त हो चला था मालवा से अवंतिका की ओर प्रस्थान करने का, मैं और मेरी माँ ओम्कारेश्वर स्टेशन पर ट्रेन का वेट कर रहे थे । अपने सही समय पर ट्रेन आ चुकी थी, मेरा और माँ का इस ट्रेन में पहले से ही रिजर्वेशन कंफर्म था । यह मीटर गेज की ट्रेन थी इसलिए इसमें रिजर्वेशन के दो ही कोच थे । माँ तो सीट पर सो गई पर मुझे इस ट्रैक का नज़ारे देखने थे और देखना चाहता था की मालवा और अवंतिका की दूरी में क्या विशेष है । परन्तु वाकई यह यात्रा एक रोमांचक यात्रा थी पहले नर्मदा नदी का पुल और इसके बाद कलाकुंड और पातालपानी रेलवे स्टेशन के बीच का घाट सेक्शन ।

        ऐसा घाट सेक्शन मैं पहले भी अपनी मावली - मारवाड़ रेल यात्रा के दौरान देख चुका था परन्तु यह भी काफी अलग था । ट्रैन सुरंगों को पार करती हुई  गंतव्य उज्जैन की और बढ़ रही थी रास्ते के नज़ारे काफी देखने लायक थे । पहाड़ों से बहते झरने इस रेल यात्रा को एक यादगार और कभी न भूलने वाली यात्रा बना देते हैं । घाट सेक्शन समाप्त होते ही पातालपानी रेलवे स्टेशन आता है और इसके बाद यहाँ के मीटर गेज ट्रेनों का मुख्य गढ़ आता है महू। महू के बाद फतेहाबाद चन्द्रावती गंज होती हुई ट्रैन रात को दस बजे उज्जैन पहुँच गई जहाँ रिटायरिंग रूम में मैंने एक कमरा बुक कर लिया। 

नर्मदा नदी 

मेरी माँ 

यात्री सुधीर उपाध्याय 

बडवाह रेलवे स्टेशन 

चोरल रेलवे स्टेशन   

चोरल  

चोरल 



कालाकुंड रेलवे स्टेशन 


कालाकुंड से प्रस्थान 










पातालपानी  रेलवे स्टेशन 

महू 

महू रेलवे स्टेशन 

महू रेलवे स्टेशन 

उज्जैन जंक्शन 


  अगला भाग - उज्जैन दर्शन